अमृतसर हमला / दोनों आरोपी गिरफ्तार, मुख्यमंत्री अमरिंदर ने कहा- आईएसआई बम हमले की मास्टरमाइंड

चंडीगढ़. अमृतसर के निरंकारी भवन में ग्रेनेड हमले के दोनों आरोपियों को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया गया। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि हमले के पीछे कोई धार्मिक एंगल नहीं है। यह पूरी तरह से आतंकी वारदात है। उन्होंने कहा कि इस हमले की साजिश आईएसआई ने रची।

 

अमरिंदर ने कहा- अपने मोहरों का इस्तेमाल कर रही आईएसआई

अमरिंदर ने बुधवार को कहा- हरमीत सिंह ‘पीएचडी’ उर्फ हैप्पी केवल मोहरा है, जिसका इस्तेमाल आईएसआई कर रही थी। जिस तरह के ग्रेनेड का इस्तेमाल किया गया, उससे लगता है कि ये दूसरे मॉड्यूल से लिया गया था। इसका इस्तेमाल कश्मीर में सुरक्षा बलों के खिलाफ किया जाता है। पाकिस्तान के हथियार कारखाने में इसे बनाया गया था और ये छर्रों से भरा हुआ था।
दरअसल, पिछले दिनों पटियाला से आतंकी संगठन खालिस्तान गदर फोर्स से जुड़े शबनमदीप सिंह को गिरफ्तार किया गया था। वह युवकों को आतंकी बनने के लिए उकसाता था और हैप्पी के संपर्क में था।

 

‘पहले भी ऐसे हमलों की कोशिश हुई’
पुलिस ने दो आरोपियों बिक्रमजीत सिंह और अवतार सिंह को गिरफ्तार किया। अमरदिंर ने कहा, “निरंकारी भवन पर हमला इसलिए किया गया, क्योंकि वह आसान टारगेट था। हमारे पास पहले भी दूसरी संस्थाओं पर हमले की सूचना थी, लेकिन हमने सुरक्षात्मक कदम उठाए और इन्हें नाकाम कर दिया।”

सत्संग के दौरान ग्रेनेड से हुआ था हमला

राजासांसी स्थित निरंकारी भवन में रविवार को ग्रेनेड से किए गए हमले और गोलीबारी में तीन लोगों की मौत हो गई थी। हमले के वक्त सत्संग चल रहा था और वहां करीब 250 लोग मौजूद थे।

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.