BJP और Congress ने नेताओं के परिवार को MP में 30%, राजस्थान में 15% सीटों पर टिकट दिए

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh)में भाजपा (BJP)और राजस्थान में कांग्रेस (Congress) परिवारवाद को बढ़ाने के मामले में आगे रही। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh)की 230 सीटों में से भाजपा (BJP)ने करीब 20% और कांग्रेस(Congress) ने 10% टिकट अपने नेताओं के परिवार के लोगों को दिए हैं। राजस्थान की 200 सीटों में से कांग्रेस(Congress) ने 10% और भाजपा(BJP) ने करीब 5% सीटों पर नेताओं के परिवार वालों को टिकट दिए हैं। कुछ ऐसा ही हाल अन्य चुनावी राज्यों में भी है।

 

 

                      मध्यप्रदेश: 68 सीटों पर राजनीतिक परिवारों से जुड़े चेहरे

  1. मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh) में भाजपा-कांग्रेस ने 71 सीटों पर परिवारवाद को ही आगे बढ़ाया। ये 71 प्रत्याशी 68 अलग-अलग सीटों से चुनाव मैदान में हैं। यानी प्रदेश की 30% सीटों पर परिवारवाद का ही वर्चस्व है।
  2. राज्य में भाजपा(BJP) ने 230 में से 48 टिकट अपने नेताओं के भाई, बहन, बहू, बेटे, पत्नी या परिवार के किसी अन्य सदस्य को दिए हैं। इनमें से 34 टिकट बेटे-बेटियों और 14 टिकट परिवार के किसी अन्य सदस्य को दिए। इसी तरह कांग्रेस ने 23 टिकट नेताओं के परिवार के सदस्यों को दिए। इनमें 14 टिकट बेटे-बेटियों और नौ अन्य सदस्यों को मिले हैं।
  3.                              दिग्विजय के परिवार से तीन को टिकट

    भाजपा(BJP) में कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश, पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की बहू कृष्णा गौर को टिकट मिला है। कांग्रेस(Congress) में दिग्विजय सिंह ने परिवार में तीन सदस्यों को टिकट दिलाया। पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव, सांसद कांतिलाल भूरिया के परिवार से 2-2 लोगों को टिकट मिला है।

  4.                  राजस्थान: 17 परिवार ऐसे, जिन्हें हर चुनाव में टिकट मिलता है

    राजस्थान में कांग्रेस(Congress) ने परिवारवाद के मामले में भाजपा(BJP) को पीछे छोड़ दिया है। राज्य में भाजपा और कांग्रेस ने 30 सीटों पर अपने नेताओं के परिवार के सदस्यों को टिकट दिया है। यानी करीब 15% सीटों पर परिवारवाद हावी है।

  5. कांग्रेस(Congress) ने 20 और भाजपा(BJP) ने 10 सीटों पर नेताओं के परिवार को टिकट दिया है। राज्य में 17 ऐसे राजनीतिक परिवार हैं, जिन्हें पिछले तीन-चार चुनावों से हर बार टिकट मिल रहा है। इस बार भी मिला। इसे लेकर कई सीटों पर दोनों पार्टियों के अन्य टिकट दावेदार और उनके समर्थक प्रदर्शन भी कर चुके हैं
  6.        कांग्रेस ने भाजपा नेता जसवंत सिंह के बागी बेटे मानवेंद्र को टिकट दिया

    कांग्रेस ने भाजपा नेता और पूर्व विदेश मंत्री जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह, महिपाल मदेरणा की बेटी दिव्या, शीशराम ओला के बेटे बृजेंद्र आदि दिग्गजों के परिवारवालों को टिकट दिया। भाजपा ने किरोड़ीलाल मीणा की पत्नी गोलमा देवी, पूर्व मंत्री सांवरलाल जाट के बेटे रामस्वरूप जैसे दिग्गजों को टिकट दिया है।

  7.       तेलंगाना: टीआरएस में मुख्मंत्री के परिवार से तीन लोग मैदान में

    टीआरएस के अध्यक्ष और तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने राज्य की 119 सीटों के लिए करीब 20% टिकट पार्टी नेताओं के परिवार को दिए हैं। खुद राव के अलावा उनके बेटे केटी रामाराव, भतीजा हरीश राव चुनाव लड़ रहे हैं।

  8. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष उत्तम कुमार रेड्डी और उनकी पत्नी पद्मावती रेड्डी भी चुनाव मैदान में हैं। कांग्रेस के भाटी विक्रामारका (कार्यकारी अध्यक्ष) उनके भाई मल्लू रवि भी मैदान में हैं।

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.