fbpx

भारत को दो विश्व कप दिलाने वाले इस क्रिकेटर ने लिया संन्यास का फैसला

मौजूदा समय में इंडियन क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे बेहतरीन बल्लेबाज गौतम गंभीर में अचानक से ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। इंडिया को दो बार वर्ल्ड कप का ताज पहनाने वाले गौतम काफी समय से अपनी टीम से बाहर चल रहे थे।

बता दे इस सालामी बल्लेबाज ने साल 2003 के दौरान अपना पहला डेब्यू मैच खेला था। जिसके बाद उन्होंने अपना अंतिम टेस्ट मैच 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। बता दे इस खिलाड़ी को रोहित शर्मा के टीम ने रहने के चलते भारतीय वनडे या टी-20 टीम में जगह नहीं मिली थी। बड़े -बड़े मैचों को अपने नाम करने वाले इस खिलाड़ी ने अभी तक 242 अन्तर्राष्ट्रीय मैच खेले हैं।

जिसमें उनके 58 टेस्ट, 147 वनडे और 37 टी-20 मैच भी शामिल हैं। इन सभी मैचों के दौरान इस सालामी बल्लेबाज ने 10,324 रन अपने नाम किये थे। जिसमें इनके नाम पर 20 शतक और 63 अर्धशतक भी शामिल हैं। इतना ही नहीं इस खिलाड़ी ने 6 वनडे मैचों में भारत की और से कप्तानी भी सभाली थी। तो आइए आज इसी कड़ी में जानते हैं गौतम की अब तक की सबसे बेहतरीन तीन पारियों के बारें में।

206 खिलाफ ऑस्ट्रेलिया
इस खिलाड़ी ने घरेलू मैदान में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध अपने टेस्ट मैच के करियर का एकमात्र दोहरा शतक लगाया था। बता दे यह मैच पूर्व भारतीय कप्तान अनिल कुंबले का अंतिम मैच था। इस मैच के दौरान बल्लेबाजी करने आये गौतम ने अपने साझेदार सहवाग को गवां दिया था। इस मैच के दौरान राहुल ने भी कुछ खास प्रदर्शन नहीं दिया था। जिसके बाद गंभीर ने सचिन और वीवीएस लक्ष्मण के साथ साझेदारी करके अपनी टीम को 600 से ज्यादा रनों का स्कोर दिया था। इस मैच के दौरान गंभीर ने दोहरा शतक अपने नाम करते हुए 206 रनों की बेह्तरीन पारी खेली थी।

150 विरुद्ध श्रीलंका
सालामी बल्लेबाज ने दो बार वनडे क्रिकेट में 150 रनों का स्कोर बनाया हैं। लेकिन घरेलू मैदान में श्री लंका के विरुद्ध ये पारी बेहद यादगार पारी थी। इस मैच के दौरान श्री लंका ने भारत को 316 रनों का लक्ष्य दिया था। जिसके बाद लक्ष्य का पीछा करने मैदान में आयी भारतीय टीम ने महज 23 रनों के साथ अपने दो बेहतरीन खिलाड़ी सहवाग और सचिन को खो दिया था। इसके बाद कोहली और गंभीर की बेहतरीन साझेदारी ने टीम को 224 रन देकर जीत दिलाई थी। जिसमें गंभीर ने 37 गेंद में 14 चौकों के साथ 150 रनों का स्कोर दिया था। इस मैच के समाप्त होने के बाद इस खिलाड़ी को मैन ऑफ द मैच के खिताब से भी नवाजा गया था।

137 विरुद्ध न्यूजीलैंड
खिलाड़ी की ये पारी शायद ही किसी को याद होगी। लेकिन गंभीर की ये पारी उनकी बेहतरीन पारियों में से एक हैं। इस मैच के दौरान पहले बल्लेबाजी करने आयी कीवी टीम ने 619 का स्कोर बनाया था। लेकिन उस समय इंडियन टीम पहली पारी में सिर्फ 305 रनों पर सिमट गयी थी। लेकिन दूसरा मैच खेलने मैदान पर आयी भारतीय टीम के ऊपर हार का खतरा था। लेकिन गंभीर ने इस पारी में अपना बेहतरीन प्रदर्शन दिया। इस मैच के दौरान उन्होंने 436 गेंदों का सामना किया था।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.