fbpx
Advertisements

72 साल में पहली बार जीती टेस्ट सीरीज,भारत ने ऑस्ट्रेलिया में रचा इतिहास

India vs Australia :भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी टेस्ट मैच बारिश के कारण ड्रॉ पर खत्म हुआ. टीम इंडिया ने चार मैचों की यह टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली है. इसी के साथ ही भारत ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर इतिहास रच दिया है. भारत 72 साल बाद कंगारुओं के घर में घुस कर उन्हें मात देने में कामयाब रहा.

सिडनी टेस्ट में 193 रन बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा मैन ऑफ द मैच(Man of the Match) रहे, जबकि मैन ऑफ द सीरीज (Man of the Series) का अवॉर्ड भी उन्हीं को मिला. पुजारा ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज में कुल 521 रन बनाए.

भारत ने ऑस्ट्रेलियाई धरती पर 72 साल में पहली बार कोई टेस्ट मैचों की सीरीज जीती है. आजादी के बाद पहली बार कोई भारतीय टीम इस देश में टेस्ट सीरीज जीतने में कामयाब रही है. विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया ने इतिहास के सुनहरे पन्नों में अपना नाम दर्ज करा लिया है, क्योंकि जब पहली बार इन दो देशों के बीच टेस्ट सीरीज खेली गई तो मौजूदा भारतीय टीम के खिलाड़ी पैदा भी नहीं हुए थे.

भारत ने एडिलेड में खेला गया पहला टेस्ट मैच 31 रनों से जीता था जबकि पर्थ में हुए दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 146 रनों से हराते हुए वापसी की थी, लेकिन मेलबर्न में विराट की सेना ने पलटवार करते हुए कंगारुओं को 137 रनों से मात देकर टेस्ट सीरीज में 2-1 से बढ़त बना ली. सिडनी में चौथा टेस्ट ड्रॉ रहने पर टीम इंडिया ने 2-1 से ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीत ली है.

आपको बता दें कि भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट सीरीज साल 1947 में आजादी के बाद लाला अमरनाथ की कप्तानी में खेली थी. उस दौरे पर भारत को कंगारू टीम ने 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में 4-0 से शिकस्त दी थी. भारत तब से लेकर अब जाकर ऑस्ट्रेलिया में कोई टेस्ट सीरीज जीतने में सफल रहा है. 1947 दौरे को मिलाकर भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में कुल 12 टेस्ट सीरीज खेली है. जिनमें से उन्हें 8 सीरीज में कंगारू टीम से शिकस्त मिली है. भारत 1980-81, 1985-86, 2003-04 में 3 सीरीज ड्रॉ करवाने में कामयाब रहा है और अब 2018-19 में भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में पीटकर 1 टेस्ट सीरीज अपने नाम कर ली.

अब तक टीम इंडिया के कुल 13 कप्तान ऑस्ट्रेलिया का दौरा कर चुके है, लेकिन टेस्ट सीरीज जीतने में कामयाब सिर्फ विराट कोहली हुए. भारत ने 1980-81 में सुनील गावस्कर, 1985-86 में कपिल देव और 2003-04 में सौरव गांगुली की कप्तानी में कुल 3 टेस्ट सीरीज ड्रॉ कराने की उपलब्धि हासिल की थी.

ऑस्ट्रेलिया में भारतीय टीम ने कुल 48 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें से उन्होंने 7 टेस्ट जीते हैं. इस दौरान भारतीय टीम को 29 टेस्ट मैचों में हार का सामना करना पड़ा है और 12 टेस्ट मैच ड्रॉ पर समाप्त हुए हैं.

टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया 1977-78 के दौरे पर बिशन सिंह बेदी की कप्तानी में यहां पहला टेस्ट मैच जीता था. इस दौरे पर भारत ने कुल दो टेस्ट मैच जीते थे. मेलबर्न में खेले गए टेस्ट मैच में भारत ने 222 रनों से कंगारू टीम को मात दी. उसके बाद सिडनी में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पारी और 2 रन से धूल चटा दी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: