fbpx
Advertisements

शुगर, हाई और लो ब्लड प्रेशर, जोड़ों मे दर्द और मसल्स में खिंचाव जैसी कई परेशानियां अपने साथ लेकर आता है मोटापा।

मोटापा अपने साथ बहुत सारी बीमारियां लेकर आता है. शुगर, हाई और लो ब्लड प्रेशर, जोड़ों मे दर्द और मसल्स में खिंचाव जैसी कई परेशानियां अपने साथ लेकर आती हैं। हाल ही में हुई एक रिसर्च ने मोटापे से होने वाली एक और बीमारी को खोज निकाला है। इसके मुताबिक मोटापे से ग्रस्त महिलाओं को दिल की बीमारियों का बहुत ज्यादा खतरा रहता है।

यह रिसर्च ‘द लैंसेट डायबिटीज व इंडोक्राइनोलॉजी’ पत्रिका में छपी। जिसमे बताया गया कि मोटापा दिल संबंधी बीमारियों के लिए जोखिम कारक है, भले ही महिलाओं को कोई मेटाबॉलिज्म संबंधी बीमारी हो या नहीं हो. मोटापा लगभग सभी दिल की बीमारियों के जोखिम कारकों को प्रभावित करता है। हालांकि, कुछ मोटे लोग इनसे मुक्त दिखते हैं और मेटाबॉलिज्म रूप से स्वस्थ हो सकते हैं. यह शोध 90,000 से ज्यादा महिलाओं पर किया गया है।

ठंडा पानी पीने के नुकसान, सर्दी-खांसी ही नहीं इन 5 परेशानियों की वजह है Cold Water

90,000 महिलाओं पर किए गए एक शोध के अनुसार, मोटापाग्रस्त महिलाएं जो दशकों से मेटाबॉलिज्म की दृष्टि से स्वस्थ हैं उनमें भी सामान्य वजन वाली स्वस्थ उपापचय वाली महिलाओं की तुलना में दिल संबंधी बीमारियां विकसित होने का खतरा ज्यादा होता है।

मोटापा मेटाबॉलिज्म सिंड्रोम वाले लोगों को भी प्रभावित करता है और दिल संबंधी बीमारियों का जोखिम दोगुना कर देता है। इन बीमारियों में दिल का दौरा व स्ट्रोक शामिल है। मेटाबॉलिज्म सिंड्रोम में हाई ब्लड प्रेशर, खराब शुगर नियंत्रण व असामान्य रक्त वसा शामिल है भूखे रहने के शौकीन लोगों को जल्दी आता है मोटापा, डायबिटीज होने का भी खतरा।

टिप्पणियां जर्मनी के न्यूथेएलजर्मन इंस्टीट्यूट ऑफ ह्यूमन न्यूट्रिशन पोट्सडेम-रेहब्रुके (डीआईएफई) के प्रोफेसर मैथियास शुल्जे ने कहा, “हमारा शोध पुष्टि करता है कि उपापचयी रूप से स्वस्थ मोटापा नुकसानदेह स्थिति नहीं है, लेकिन दशकों से उपापचय संबंधी बीमारियों से मुक्त रहने वाली महिलाओं को भी दिल संबंधी बीमारियों के बढ़े जोखिम का सामना करना पड़ता है.” (इनपुट – आईएएनएस)।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: