fbpx

Pulwama Terror Attack : सहवाग ने लिया शहीदों के बच्चों की शिक्षा का जिम्मा

पूर्व क्रिकेटर विरेन्द्र सहवाग ने पुलवामा आतंकवादी हमले (Pulwama Terror Attack ) में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाने की जिम्मेदारी ली। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में बृहस्पतिवार को हुए इस भीषण आतंकवादी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गये थे तथा कई बुरी तरह से घायल हो गये।

उन्होंने शनिवार को ट्वीट कर कहा, ‘हम जो कुछ भी कर सकते हैं वो काफी नहीं होगा। ये काफी छोटी चीज है लेकिन मैं बहादुर जवानों के सभी बच्चों के की पढ़ाई का पूरा ख्याल रखने की पेशकश करता हूं। सभी बच्चों की पढ़ाई का ख्याल झज्जर स्थित मेरे सहवाग इंटरनेशनल स्कूल में रखा जाएगा। सौभाग्य होगा।’

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को एक आत्मघाती (Pulwama Terror Attack )में सीआरपीएफ के 42 जवान शहीद हो गए। पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर अपनी विस्फोटकों से लदी एसयूवी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की बस से टकरा दी और उसमें विस्फोट कर दिया। यह हमला श्रीनगर से करीब 30 किलोमीटर दूर लेथपोरा इलाके में हुआ। पाकिस्तान स्थित आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) ने इस नृशंस आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली।

भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने पहले भी ट्वीट कर कहा था, ‘जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ जवानों पर हुए इस कायराना हमले ने बहुत दर्द पहुंचाया है। इसमें हमारे वीर जवान शहीद हुए हैं। दर्द को बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं। उम्मीद करता हूं घायल जवान जल्दी ठीक होंगे।’

मुक्केबाज विजेन्दर सिंह ने भी अपने एक महीने का वेतन शहीदों के परिवारों के लिए दान किया। विजेन्दर हरियाणा पुलिस में कार्यरत हैं।

इस हमले (Pulwama Terror Attack ) के बाद भारत ने शुक्रवार को सख्त रुख अपनाते हुए पाकिस्तान को दिया गया सर्वाधिक तरजीही राष्ट्र (मोस्ट फेवर्ड नेशन) का दर्जा वापस ले लिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हुई सुरक्षा पर कैबिनेट कमेटी (सीसीएस) की बैठक में यह फैसला लिया गया।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.