fbpx

Republic Day 2019 : राजपथ पर दी गई 21 तोपों की सलामी

राजपथ पर पराक्रम का अनोखा दृश्य, दुनिया देख रही है भारत की शक्ति

नई दिल्ली। देश शनिवार को 70वां गणतंत्र दिवस धूमघाम से मनाया जा रहा है। इस मौके पर दिल्ली सहित पूरे देश में सुरक्षा के इंतजाम कडे कर दिए गए हैं। जमीन से लेकर आकाश तक कड़ी नजर रखी जा रही है।
राष्ट्रीय राजधानी में 70वें गणतंत्र दिवस का जश्न शनिवार को राजपथ पर कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हुआ. दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा इस समारोह के मुख्य अतिथि हैं. राजपथ पहुंचने से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और तीनों सेना प्रमुखों के साथ अमर जवान ज्योति पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी.
मोदी इस साल भी पारम्परिक कुर्ता-पायजामा के साथ नेहरू जैकेट पहने नजर आए. उन्होंने राजपथ पहुंच कर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और मुख्य अतिथि की अगवानी एवं उनका स्वागत किया. ध्वजारोहण के दौरान बैंड ने राष्ट्रगान बजाया और 21 तोपों की सलामी दी गई. इसी के साथ तिरंगा भी फहराया गया.

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर दिल्ली-एनसीआर में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था कर दी गई थी। सेंट्रल दिल्ली को 7 लेयर की सुरक्षा दी गई है। चाणक्यपुरी के होटेल में ठहरे देशों के प्रमुखों की सुरक्षा के लिए दिल्ली पुलिस को भी अलर्ट पर रखा गया है। इस तरफ आने वाले रास्तों पर आम लोगों के लिए ट्रैफिक डायवर्ट किया गया है।

-सेना के जवानों का कदम से कदम बढाए जा की धुन के साथ मार्चपास्ट किया जा रहा है।

-राजपथ पर तिरंगा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने फहराया। आज इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा हैं।

-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमर जवान ज्योति पर शहीदों को नमन किया। प्रधानमंत्री को देखकर जवानों में जोश।
दिल्ली के राजपथ पर 9:50 बजे से शुरू होगी परेड। इससे पहले प्रधानमंत्री अमर जवान ज्योति पहुंचकर शहीदों को श्रद्धांजलि देंगे।

-भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय में फहराया तिरंगा।

शुक्रवार शाम को दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने कई सीनियर ऑफिसरों के साथ सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। सुरक्षा व्यवस्था में दिल्ली पुलिस, अद्र्धसैनिक बल, एनएसजी और आर्मी के 50 हजार से ज्यादा जवानों को तैनात कर दिया गया है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.