एसएसपी के कङे रूख से अवैध धन्धों पर लगी लगाम।।

Lucknow : SSP Kalanidhi Naithani  के कङे रूख से अवैध धन्धों पर लगी लगाम
Lucknow : SSP Kalanidhi Naithani के कङे रूख से अवैध धन्धों पर लगी लगाम

Lucknow – राजधानी के लगभग हर एक थाना क्षेत्र में फैले अवैध धन्धों पर फिलहाल वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक का चाबुक चल पङा है। अवैध नशे का कारोबार हो या फिर अवैध धन्धे हों सभी जगह फिलहाल सन्नाटा पसरा हुआ है।
पिछले वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक राय के बाद बरेली से लखनऊ आये तेजतर्रार आइपीएस आफीसर कलानिधि नैथानी ( SSP Kalanidhi Naithani) ने आते ही जिले के लगभग सभी थानों के थानाध्यक्षों पर नकेल कस दी और तुरन्त अवैध धन्धों पर लगाम कसने के लिये कहा। बीबीडी कालेज प्रबंधन पिछले काफी समय से पुलिस को लिखित शिकायत दे रहा था की उनके कालेज के आसपास अवैध रूप से चरस गांजा व कोकीन बेचा जा रहा है। मगर पुलिस ने बीबीडी कालेज के प्रबंधन की एक न सुनी और खुलेआम चरस गांजा का धन्धा होने दिया और एक मोटी रकम हर माह लेते रहे। यही हाल थाना पीजीआई(PGI, Lucknow) का रहा। यहां थाना क्षेत्र में कच्ची शराब, सैक्स रैकेट, चरस गांजा तथा बहुत सारे अवैध धन्धों ने अपनी जङें मजबूत कर ली थीं।
यही हाल थाना बंथरा,सरोजिनी नगर व गुङम्बा का भी रहा। थाना बंथरा में अवैध सरिया व गांजा का कारोबार चरम पर रहा।
पिछले वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के कार्यकाल में एक ही जाति के थानेदारों को तवज्जों दी जा रही थी। लखनऊ(Lucknow) के लगभग सभी थानों में एक ही जाति के दावेदारों का दबदबा चल रहा था । भ्रष्टाचार चरम पर था। आम जनता की परेशानी किसी को समझ नहीं आ रही थी। पुलिस जबरन आम आदमी को फंसा रही थी। जो थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने जाता उसको ही पकङ कर बैठा लिया जाता। हालात इतने खराब हो गये की आम आदमी थानों में जाने से डरने लगा।
थाना पीजीआई (PGI, Lucknow) इन मामलों में अग्रणी भूमिका निभाता रहा है। मशहूर अन्तर्राष्ट्रीय निशानेबाज वर्तिका सिंह के साथ पीजीआई(PGI, Lucknow) के एक डाक्टर ने पीजीआई अस्पताल(PGI, Lucknow) के गेट पर ही शराब के नशे में उनके साथ अभद्रता की। जब इस मामले की शिकायत वर्तिका सिंह ने पुलिस से की तो पीजीआई पुलिस वर्तिका पर ही दवाब बनाने लगी। विडम्बना देखिये एक अन्तराष्ट्रीय निशानेबाज को लखनऊ (Lucknow) के गांधी प्रतिमा पर अनशन करना पङा। मगर फिर भी आरोपी डाक्टर के खिलाफ पीजीआई (PGI, Lucknow) पुलिस मामला दर्ज नहीं कर रही थी आखिर में प्रधानमंत्री कार्यालय ने मामले में दखल दिया तब जाकर आरोपी डाक्टर के खिलाफ पीजीआई पुलिस ने मामला दर्ज किया ।।
अब जब नये वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी( SSP Kalanidhi Naithani) ने लखनऊ(Lucknow) की बागडोर सम्भाली तो भ्रष्ट पुलिस कर्मियों की जान पर बन आई। नतीजा यह हुआ की लखनऊ(Lucknow) के लगभग सभी थानाध्यक्षों ने अपने-अपने क्षेत्र से अवैध धन्धों पर लगाम कस दी। अब राजधानी (Lucknow) में कुछ थाना क्षेत्रों को छोङ दें तो लगभग सभी जगह पर काले धन्धों पर लगाम कसती दिखाई पङ रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.