fbpx

यूपी बजट 2019 : स्मार्ट सिटी योजना को 758 करोड़ रुपये, जानें और क्या है बजट में

लोकसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने गुरुवार को अपना तीसरा बजट पेश किया. वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने 4 लाख 79 हज़ार 701 करोड़ 10 लाख रुपये का बजट पेश किया. यह बजट पिछले साल की तुलना में 12 फीसदी अधिक है. इस बजट में सरकार ने सभी वर्गों का ध्यान रखा है. इसमें 2 हज़ार 212 करोड़ 95 लाख रुपये नई परियोजनाओं के लिए प्रास्तावित किया गया है। वृंदावन शोध संस्थान के सुदृढ़ीकरण हेतु एक करोड रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है।

वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में सबसे पहले कुम्भ का जिक्र किया. अवस्थापना के लिए पूर्वांचल एक्सप्रेस को शामिल किया गया, पूर्वांचल एक्सप्रेस के लिए 1194 करोड़, बुंदेलखंड एक्प्रेस के लिए 1000 करोड़, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे लिए 1000 करोड़, डिफेंस कॉरिडोर के लिए 500 करोड़, आगरा लखनऊ एक्प्रेस वे 6 लेन के लिए 100 करोड़, स्मार्ट सिटी योजना के तहत 758 करोड़ की व्यवस्था की गई है. जबकि स्वच्छ ग्रामीण मिशन के तहत 58 हजार 770 ग्राम पंचायत को शौच मुक्त कर दिया है.

Yogi Adityanath's Budget 2019
            Yogi Adityanath’s Budget 2019

जानें, बजट में क्या है :

  • पिछले बजट के मुकाबले 12 प्रतिशत अधिक है यह बजट।
  • उत्तर प्रदेश में 10 लाख 10 हजार और लोगों को आयुष्मान भारत के दायरे में लाया जाएगा। मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत यूपी सरकार ने 111 करोड़ रुपये का बजट तय किया।
  •  गांवों में गोवंश के रख-रखाव पर 247 करोड़ और शहरों में कान्हा गोशाला के लिए 200 करोड़ रुपये।
  •  सहकारी क्षेत्र की बंद चीनी मिलों के लिए 50 करोड़ रुपये और पीपीपी मोड पर चलाने के लिए 25 करोड़ रुपये
  •  पुलिसकर्मियों के बैरक के लिए 700 करोड़। टाइप ए, बी के लिए 700 करोड़। पुलिस की 7 लाइनों के लिए 400 करोड़, 57 फायर स्टेशन पर भवनों केलिए 200 करोड़, आधुनिकीकरण के लिए 204 करोड़।
  •  बस सेवा से वंचित 14,561 गांव जोड़े जाएंगे।
  • 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए बजट में सरकार व्यवस्था करेगी। इसके तहत आधुनिक तरीके से कृषि को बढ़ावा देने पर जोर होगा।
  •  राजकीय इंटर कॉलेज की स्थापना के लिए 10 करोड़।
  • कन्या सुमंगलम योजना के लिए 1200 करोड़।
  •  प्रादेशिक विमान के लिए 150 करोड़
  • अनुसूचित छात्रों को 2307 करोड़।
  • निराश्रित विधवाओं को 1410 करोड़।
  • बुंदेलखंड के लिए बुंदेलखंड विकास बोर्ड के गठन का ऐलान किया गया। इसी तरह पूर्वांचल विकास बोर्ड के गठन का भी ऐलान।  कुशीनगर के साथ गौतमबुद्धनगर का एयरपोर्ट भी जल्द ऑपरेशनल होगा।
  • अयोध्या एयरपोर्ट के लिए 200 करोड़ का बजट।
  • मेट्रो: वाराणसी, मेरठ, गोरखपुर, प्रयागराज और झांसी मेट्रो के लिए 150 करोड़, वहीं कानपुर और आगरा मेट्रो के लिए 175-175 करोड़ का बजट।
  • पुष्टाहार के लिए 404 करोड़ रुपये।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के लिए 6,240 करोड़ रुपये।
  •  स्वास्थ्य पर बड़ा ऐलानः कैंसर संस्थान लखनऊ के लिए 248 करोड़ रुपये का ऐलान। लखनऊ में अटल बिहारी चिकित्सा
  • विश्वविद्यालय के लिए 50 करोड़ रुपये। उत्तर प्रदेश में आयुष विश्वविद्यालय खुलेगा। बजट में 10 करोड़ रुपये का ऐलान किया गया
  • राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना: 3,488 करोड़ रुपये, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना: 2,954 करोड़ रुपये, राष्ट्रीय ग्रामीण
  • आजीविका मिशन: 1,393 करोड़ रुपये, मुख्यमंत्री आवास योजना-ग्रामीण: 429 करोड़ रुपये, श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन: 224 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित।

इससे पहले कैबिनेट बैठक में बजट पर प्रस्ताव पास हो गया है. यूपी के सदन में पहली बार 11 बजे बजट पेश किया गया. आज प्रश्नकाल को समाप्त किया गया है. चार लाख 79 हजार सात सौ एक करोड़ 10 लाख रुपये का बजट यूपी सरकार ने पेश किया.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.